Indian Railway: क्या एक साल के बच्चों का ट्रेन में लगेगा टिकट? जानिए क्या है वायरल मैसेज की सच्चाई

Indian Railway: भारतीय रेलवे की मदद से रोजाना लाखों लोग यात्रा करते हैं. इस बीच, इन दिनों एक दावा किया जा रहा है कि अब पांच साल से कम उम्र के बच्चों का भी ट्रेन टिकट लगेगा. वहीं, एक रिपोर्ट में बताया गया है कि एक साल के बच्चे का भी टिकट लिया गया. अब पीआईबी फैक्ट चेक ने इस वायरल दावे की सच्चाई बताई है.

Indian Railways Indian Railways
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 17 अगस्त 2022,
  • अपडेटेड 10:36 AM IST

Train Ticket of Child Fact Check: भारतीय रेलवे की मदद से रोजाना लाखों लोग एक जगह से दूसरी जगह की यात्रा करते हैं. दो साल पहले कोरोना महामारी के दौरान ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों की संख्या में कुछ कमी जरूर आई, लेकिन अब रेलवे पूरी तरह से पटरी पर लौट चुकी है. हालांकि, इस दौरान कुछ नियम जरूर बदल दिए गए. बदले गए नियमों के बीच एक दावा यह भी किया जा रहा है कि अब पांच साल से कम उम्र के बच्चों का भी ट्रेन टिकट लगेगा. वहीं, एक रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि एक साल के बच्चे का भी ट्रेन टिकट का किराया लिया गया. मालूम हो कि अब तक पांच साल से कम उम्र के बच्चों का ट्रेन टिकट नहीं लगता था. पीआईबी फैक्ट चेक ने इस वायरल दावे को 'मिसलीडिंग' करार दिया है. 

ट्रेन टिकट को लेकर क्या हो रहा दावा?
कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के जरिए से दावा किया जा रहा है कि IRCTC वेबसाइट ने टिकट बुकिंग नियमों को अपडेट कर दिया है, जिसके तहत पांच साल से कम उम्र के बच्चों को अब ट्रेन टिकट खरीदने के लिए पूरे पैसे खर्च करने होंगे. इसके लिए भारतीय रेलवे और IRCTC ने ऑनलाइन बुकिंग के समय इन्फैंट सीट्स का ऑप्शन जोड़ दिया है. हालांकि, रिपोर्ट में यह भी साफ किया गया है कि भारतीय रेलवे द्वारा 06.03.2020 को जारी सर्कुलर संख्या 12 के अनुसार, 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को यात्रा के लिए आरक्षण की आवश्यकता नहीं है और वे बिना टिकट के ट्रेन में यात्रा कर सकते हैं. हालांकि, अगर बर्थ की जरूरत है, तो टिकट बुक करके पूरे वयस्क किराए का भुगतान करना होगा. इसके अलावा, एक रिपोर्ट में एक साल के बच्चे का ट्रेन टिकट लगने की भी जानकारी दी गई है. 

वायरल दावे पर क्या बोला पीआईबी पैक्ट चेक?
पीआईबी फैक्ट चेक ने पांच साल से कम उम्र के बच्चों का ट्रेन टिकट लगने की बात को गलत बताया है. रिपोर्ट को 'मिसलीडिंग' बताते हुए ट्वीट किया, ''एक रिपोर्ट में दावा किया गया है भारतीय रेलवे के पैसेंजर्स को पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए पूरा टिकट लेना होगा. पीआईबी फैक्ट चैक ने कहा कि पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए ट्रेन टिकट खरीदना पूरी तरह ऑप्शनल सुविधा है. अगर कोई बर्थ बुक नहीं की गई है तो फिर पांच साल से कम उम्र के बच्चों को फ्री में यात्रा करने की अनुमति मिलेगी.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी बोला हमला
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस पूरे मामले को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने ट्वीट किया, ''एक साल के बच्चों पर फ़ुल रेल टिकट लगानेवाली भाजपा सरकार का शुक्र मनाइए कि उसने ये नहीं कहा कि गर्भवती महिला से रेल में अतिरिक्त टिकट वसूला जाएगा. रेल अब ग़रीबों की नहीं रही. अब जनता बीजेपी की फ़ुल टिकट काटेगी.''

(वरुण सिन्हा के इनपुट सहित)

 

Read more!

RECOMMENDED