मध्य प्रदेश में भी बनेगा अयोध्या जैसा राम मंदिर, कांग्रेस नेता ने किया भूमि पूजन

राम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर के लिए जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन कर रहे थे. उसी दिन, उसी समय, उसी मुहूर्त में मध्य प्रदेश में भी एक राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन हुआ.

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने किया भूमि पूजन
रवीश पाल सिंह
  • भोपाल,
  • 06 अगस्त 2020,
  • अपडेटेड 9:32 AM IST

  • पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने किया भूमि पूजन
  • मंदिर निर्माण पर एक करोड़ खर्च का अनुमान

अयोध्या में राम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर के लिए जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन कर रहे थे. उसी दिन, उसी समय, उसी मुहूर्त में मध्य प्रदेश में भी एक राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन हुआ. इस मंदिर का भूमि पूजन कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने किया. इसके निर्माण पर एक करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है.

दरअसल, महेश्वर जल विद्युत परियोजना के डूब क्षेत्र में आने वाले लेपा गांव के करीब 250 से ज्यादा परिवारों को गांव से करीब 4 किलोमीटर दूर बने पुनर्वास स्थल पर बसाया गया था. यहां बसे ग्रामीणों को इस बात का हमेशा दुख रहता था कि गांव छोड़ के आने के बाद पुनर्वास स्थल पर कोई मंदिर नहीं है. ग्रामीण लंबे समय से यहां मंदिर निर्माण कराने की मांग कर रहे थे, जो अब जाकर पूरी होने जा रही है.

पीएम मोदी बोले- अयोध्या में एक धन्य दिन, भगवान राम का आशीर्वाद बना रहे

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने बताया कि इस मंदिर के गर्भगृह में स्थापित करने के लिए राम दरबार की मूर्तियां राजस्थान के जयपुर से लाई जाएंगी. मंदिर का नक्शा भी अयोध्या के राम मंदिर की तर्ज पर ही बनाया गया है. हालांकि, ये आकार में बहुत छोटा होगा. उन्होंने कहा कि इस मंदिर का निर्माण करीब चार हजार वर्ग फीट भूभाग पर किया जाएगा.

अयोध्या में भूमि पूजन के बाद सीएम योगी ने लखनऊ में मनाई दिवाली

मध्य प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि हमारी कोशिश है कि यहां आने वाले श्रद्धालुओं को अयोध्या में होने का ही अहसास हो. उन्होंने कहा कि मंदिर के लिए कहीं और से अभी कोई सहयोग राशि नहीं मिली है. पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ग्रामीणों ने आपसी सहयोग से ही मंदिर निर्माण शुरू करा दिया है. गौरतलब है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी अपने आवास पर राम दरबार सजाकर हनुमान चालीसा का पाठ किया था.

Read more!

RECOMMENDED