शाह ने लिए बड़े फैसले, कश्मीर में शहीदों के नाम पर होंगे सार्वजनिक स्थलों के नाम

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर के अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान आज गुरुवार को राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात की. उन्होंने विकास कार्यों और अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा का जायजा लिया. साथ ही 12 जून को आतंकी हमले में शहीद हुए SHO अरशद खान के घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात की.

जम्मू-कश्मीर में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह
कमलजीत संधू
  • नई दिल्ली,
  • 27 जून 2019,
  • अपडेटेड 7:52 AM IST

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बुधवार और गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के दौरे पर रहे. आज गुरुवार को उन्होंने प्रशासन के साथ कई बैठकें कीं और शहीद पुलिस अफसर के परिजनों से भी मिले. बतौर गृह मंत्री अपने पहले कश्मीर दौरे पर अमित शाह ने बड़ा फैसला लिया है. इसके तहत जम्मू-कश्मीर पुलिस के जो भी जवान आतंकी हमले या फिर मुठभेड़ में शहीद हुए हैं, उनके नाम पर उनके गांव में शहीद स्थल बनाए जाएंगे.

जम्मू-कश्मीर पुलिस के योगदान की तारीफ करते हुए अमित शाह ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ने में पुलिस की अहम भूमिका है. इसके साथ ही उन्होंने आदेश दिया है कि घटनाओं में शहीद होने वाले पुलिसवालों का सम्मानित किया जाए, इसके अलावा अहम जगहों एवं स्थलों का नामकरण उनके नाम पर किया जाए.

अमित शाह ने अपने दो दिवसीय दौरे में राज्यपाल सत्यपाल मलिक के साथ बैठक की. उन्होंने विकास कार्यों का जायजा लिया और अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा का जायजा लिया, घाटी के गांवों के सरपंचों के साथ मुलाकात की. 12 जून को आतंकी हमले में शहीद हुए SHO अरशद खान के घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात की.

अपने दौरे पर अमित शाह ने कई आदेश दिए, जिनमें से ये मुख्य हैं...

1.    वरिष्ठ लोगों, विकलांगों को मिलने वाली पेंशन की व्यवस्था की जाए. राज्य सरकार ये सुनिश्चित करे कि पेंशन की राशि हर किसी को पहुंचे.

2.    राज्य में डेयरी और पशुपालन सेक्टर में जोर दिया जाए. राज्य सरकार को अमूल या मदर डेयरी के साथ MoU साइन करना चाहिए ताकि पशुपालन करने वाले किसानों को फायदा हो सके.

3.    डेयरी, पशुपालन के अलावा मुर्गी पालन पर भी जोर देने की बात कही गई है. राज्य में मुर्गी पालन बड़े स्तर पर होता है, ऐसे में इस सेक्टर को बढ़ावा देने की जरूरत है.

4.    राज्य सरकार को हैंडलूम और हैंडिक्राफ्ट सेक्टर को लेकर काम करना चाहिए. इसके लिए खादी, MSME, टेक्सटाइल विभाग से मदद ली जा सकती है.

5.    पंचायत और लोकल बॉडी सिस्टम को जमीनी स्तर पर लागू किया जाए. इनके फंड का इस्तेमाल सही तरीके से हो.

6.    समाज में पहाड़ी, गुर्जर, बखरवाल जैसी जाति के लोग रहते हैं, जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं. उन्हें भी आरक्षण का फायदा मिलना चाहिए.

7.    एंटी करप्शन फोर्स को राज्य सरकार पूरी तरह से सहायता करे.

8.    महिलाओं के जीवन में सुधार और रोजगार में उनकी हिस्सेदारी के अवसर तैयार किए जाएं.

9.    युवाओं के लिए रोजगार के अवसर तैयार किए जाएं. जो युवा MBBS, इंजीनियरिंग कर रहे हैं उनपर खास ध्यान दिया जाए.

10.    राज्य के तीनों हिस्सों जम्मू, कश्मीर और लद्दाख में सुचारू रूप से विकास होना चाहिए.

11.    अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा में किसी तरह की ढील नहीं बरती जानी चाहिए. सीनियर अफसरों को हर व्यवस्था पर खुद नजर रखनी चाहिए.

12.    यात्रा की सुरक्षा के दौरान तकनीक का भी इस्तेमाल किया चाहिए. इस दौरान टूरिस्ट और श्रद्धालुओं की मूवमेंट पर भी नज़र होनी चाहिए.

13.    आतंकवाद और आतंकियों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस नीति अपनानी चाहिए.

14.    टेरर फंडिंग पर कड़ी तरीके से कार्रवाई हो.

15.    राज्य में कानून का राज लागू किया जाए.

For latest update on mobile SMS to 52424 . for Airtel , Vodafone and idea users. Premium charges apply !!

Read more!

RECOMMENDED