भूमि पूजन पर बोले प्रवीण तोगड़िया- निमंत्रण ना मिलने का दुख नहीं, अयोध्या सिर्फ झांकी

अयोध्या भूमि पूजन की तैयारियां पूरी हो गई हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रामजन्मभूमि में मंदिर की नींव रखेंगे, इससे पहले कई तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं.

प्रवीण तोगड़िया
गोपी घांघर
  • अहमदाबाद,
  • 05 अगस्त 2020,
  • अपडेटेड 9:22 AM IST

  • अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन
  • प्रवीण तोगड़िया को नहीं मिला निमंत्रण

अयोध्या में आज राम मंदिर का भूमि पूजन होना है. मंदिर आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाले और विश्व हिन्दू परिषद के पूर्व अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया का बयान सामने आया है. प्रवीण तोगड़िया को भूमि पूजन के लिए न्योता नहीं मिला है लेकिन उनका कहना है कि 490 साल के बाद विजय प्राप्त हुई है, इसिलए उन्हें काफी खुशी है.

प्रवीण तोगड़िया बोले कि भगवान ने जीवन में ऐसा मौका दिया इसके लिए भगवान को धन्यवाद, सुप्रीम कोर्ट का धन्यवाद. उन्होंने कहा कि मुझे निमंत्रण मिलने का कोई महत्व नहीं है, मैंने अपना धर्म कर्तव्य का पालन किया है. ये आनंद का अवसर है ऐसे में नाराजगी किस बात की, अयोध्या तो सिर्फ झांकी है अब काशी-मथुरा बाकी है.

भूमि पूजन की कवरेज क्लिक कर देखें...

पूर्व वीएचपी प्रमुख ने कहा कि राम मंदिर आंदोलन में 490 साल में सबसे ज्यादा योगदान अयोध्या ने दिया. राम मंदिर बनेगा तो अयोध्या को खुशी होगी, मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है. उन्होंने कहा कि लोग नियमों का पालन करते हुए इस वक्त का आनंद उठाएं.

गौरतलब है कि प्रवीण तोगड़िया की अगुवाई में वीएचपी की ओर से लगातार मंदिर बनाने की मांग होती रही है. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह 11 बजे अयोध्या पहुंचेंगे. पीएम मोदी हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा करेंगे, जिसके बाद रामलला के दर्शन कर मंदिर का भूमिपूजन करेंगे.

भूमि पूजन कार्यक्रम में साधु संतों को बुलाया गया है, साथ ही उन लोगों को भी बुलाया गया है जिनका मंदिर आंदोलन में योगदान रहा है. हालांकि, कोरोना संकट के कारण कई बड़ी हस्तियां इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पा रही हैं.

Read more!

RECOMMENDED