गुजरात में भारी बारिश की चेतावनी के चलते प्रशासन अलर्ट, NDRF की 14 टीम तैनात

गुजरात में कम दबाव और चक्रवाती सिस्टम सक्रिय होने के चलते अगले 5 दिनों तक भारी से तेज भारी बारिश हो सकती है. वहीं मौसम विभाग ने मछुआरों के लिए भी चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि मछुआरे भी फिलहाल समुद्र में ना जाएं.

गुजरात में भारी बारिश की वजह से कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात (फोटो: Aajtak)
गोपी घांघर
  • अहमदाबाद,
  • 13 अगस्त 2020,
  • अपडेटेड 7:50 PM IST

  • गुजरात में हो सकती है भारी बारिश
  • गुजरात में कई नदियां हैं उफान पर

गुजरात में पिछले 24 घंटों से लगातार जारी बारिश ने दक्षिण और सौराष्ट्र के कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात पैदा कर दिए हैं. आज मौसम विभाग और गुजरात के डिजास्टर मैनेजमेंट के बीच हुई मीटिंग के बाद पूरे गुजरात में भारी बारिश की चेतावनी को देखते हुए एनडीआरएफ की 14 टीमों को अलग-अलग जिलों में भेजा गया है.

मौसम विभाग के डायरेक्टर जंयत सरकार के मुताबिक गुजरात में कम दबाव और चक्रवाती सिस्टम सक्रिय होने के चलते अगले 5 दिनों तक भारी से तेज भारी बारिश हो सकती है. वहीं मौसम विभाग ने मछुआरों के लिए भी चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि मछुआरे भी फिलहाल समुद्र में ना जाएं. मौसम विभाग के मुताबिक राज्य के कुछ हिस्सों में अगले 48 घंटों में भारी बारिश हो सकती है.

यह भी पढ़ें: भारी बारिश से बेहाल दिल्ली, कहीं अंडरपास में कार फंसी, कहीं लंबा ट्रैफिक जाम

वहीं भारी बारिश की चेतावनी को देखते हुए गुजरात सरकार ने एनडीआरएफ की टीम को कच्छ, बनासकांठा, पाटण, मोरबी, जामनगर, देवभूमि द्वारिका, गांधीनगर, पोरबंदर, गिर सोमनाथ, अमरेली, भावनगर, सूरत, वलसाड, नवसारी में तैनात किया है. इसके साथ ही वडोदरा में एनडीआरएफ के हेडक्वार्टर में भी एक टीम को तैनात किया गया है.

वहीं गुजरात में मॉनसून के इस मौसम में अब तक 70 प्रतिशत से ज्यादा बारिश हो चुकी है, जिसमें राज्य के 205 डैम में से 37 डैम पूरी तरह भर चुके हैं. जबकि 7 डैम में 70% पानी भर चुका है. अब भी भारी बारिश के चलते कई नदियां उफान पर हैं. जिला प्रशासन के जरिए नदी किनारे के इलाके में बसे गांव के लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए भी कहा गया है.

Read more!

RECOMMENDED