दिल्ली सरकार के विज्ञापन पर गंभीर का तंज- चेहरा दिखाने का नशा अमानवीय बना देता है

केजरीवाल सरकार ने विज्ञापन वापस ले लिया है. साथ ही एक अफसर पर कार्रवाई भी की है. इसके बाद बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है.

गौतम गंभीर (फाइल फोटो-पीटीआई)
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 23 मई 2020,
  • अपडेटेड 11:19 PM IST

  • सिक्किम विज्ञापन मामले ने पकड़ा तूल
  • विरोधी दलों के नेताओं ने साधा निशाना

दिल्ली सरकार की ओर से प्रकाशित कराए एक विज्ञापन में सिक्किम को भारत से अलग दिखाए जाने का मामला तूल पकड़ चुका है. इसके बाद विरोधी दल के नेता भी लगातार केजरीवाल सरकार पर हमला बोल रहे हैं. अब बीजेपी सांसद और दिल्ली कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है.

यह भी पढ़ें: विज्ञापन पर केजरीवाल की किरकिरी, सिक्किम के CM भड़के तो अफसर पर एक्शन

सिक्किम विज्ञापन मामले पर केजरीवाल सरकार ने विवाद होते देख विज्ञापन वापस ले लिया है. साथ ही एक अफसर पर कार्रवाई भी की है. इसके बाद बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि रोज सुबह उठकर अपना चेहरा देखने और दिखाने का नशा इंसान को अमानवीय बना देता है. कभी-कभी इसी वजह से शर्मिंदा भी होना पड़ता है.

वहीं दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने भी दिल्ली के सीएम केजरीवाल पर निशाना साधा है. ट्वीट करते हुए चौधरी ने कहा, 'दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल प्रचार-प्रसार में इतना व्यस्त हैं कि उन्हें ये भी नहीं पता सिक्किम भारत का हिस्सा है या भारत से बाहर का! उनकी याद के लिए बता दूं कि सिक्किम भारत का ही हिस्सा है.'

यह भी पढ़ें: दिल्ली सरकार के विज्ञापन में सिक्किम को बताया भारत से अलग, उठे सवाल

क्या है मामला?

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार की ओर से सिविल डिफेंस के सदस्यों की भर्ती के लिए अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित कराया गया. इस विज्ञापन में आवेदन के लिए पात्रता के कॉलम में लिखा गया 'भारत का नागरिक हो या नेपाल, भूटान या सिक्किम की प्रजा हो.' नेपाल और भूटान के साथ सिक्किम को भी भारत से अलग दिखाया गया है. इस विज्ञापन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की फोटो भी छपी है.

Read more!

RECOMMENDED