दिल्ली की वायु गुणवत्ता अब भी 'बहुत खराब', गुरुवार को मिल सकती है राहत

मंगलवार को दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स 369 रहा, जो गुरुग्राम से भी बदतर था. गुरुग्राम का वायु गुणवत्ता सूचकांक 331 दर्ज किया गया था. एनसीआर में गाजियाबाद का प्रदर्शन सबसे खराब नजर आया क्योंकि वहां की एक्यूआई 421 दर्ज की गई थी.

दिल्ली में खराब हवा का कहर जारी (फाइल फोटो: पीटीआई)
ईशा गुप्ता
  • नई दिल्ली,
  • 11 दिसंबर 2019,
  • अपडेटेड 12:16 AM IST

  • लगातार सातवें दिन 'बहुत खराब' रही दिल्ली की हवा
  • मंगलवार को दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स 369 रहा

देश की राजधानी में हवा की गुणवत्ता मंगलवार को लगातार सातवें दिन ठंड के मौसम में 'बहुत खराब' श्रेणी में रही. इसकी वजह ठंडी हवाओं को बताया जा रहा है जिसने दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषकों को इकट्ठा होने दिया. मंगलवार को दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स 369 रहा, जो गुरुग्राम से भी बदतर था. गुरुग्राम का वायु गुणवत्ता सूचकांक 331 दर्ज किया गया था. एनसीआर में गाजियाबाद का प्रदर्शन सबसे खराब नजर आया क्योंकि वहां की एक्यूआई 421 दर्ज की गई थी. जबकि ग्रेटर नोएडा और नोएडा में एक्यूआई 395 रहा.

धीमी हवा ने खराब की दिल्ली की हवा

गौरतलब है कि राजधानी दिल्ली में तापमान भी गिर रहा है. जब पारा गिरता है, तो हवा ठंडी और भारी हो जाती है और प्रदूषक तत्वों को जमीन तक पहुंचने नहीं देती है. इसके अलावा, शांत हवाओं की वजह से भी दिल्ली-एनसीआर के ऊपर प्रदूषक तत्व जमा हो गए हैं. जो हवाएं पहले 15-20 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बह रही थीं, वे वर्तमान में 5-8 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बह रही हैं.

गुरुवार को बारिश दिला सकती है राहत

उच्च आर्द्रता, हवा की गति और वेंटिलेशन में कमी की वजह से पिछले दो-तीन दिनों में राष्ट्रीय राजधानी और इसके आसपास के इलाकों में प्रदूषण के स्तर में वृद्धि हुई है. शहर के कुछ हिस्सों में एयर क्वालिटी इंडेक्स 'गंभीर' श्रेणी को छूने वाला है. हालांकि उम्मीद की जा रही है कि हल्की बारिश की बौछार और हवा की गति में थोड़ी वृद्धि के कारण गुरुवार के बाद मामूली राहत मिल सकती है.

Read more!

RECOMMENDED