पटना: जलजमाव से गुस्साए लोगों का सुशील मोदी पर फूटा गुस्सा, घर का किया घेराव

पटना में जलजमाव, गंदगी और डेंगू के कहर से जूझ रहे लोगों का गुस्सा आज उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के खिलाफ फूटा.

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (Photo- Aajtak)
रोहित कुमार सिंह
  • पटना,
  • 13 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 8:19 PM IST

  • पटना में जलजमाव, गंदगी और डेंगू के कहर से जूझ रहे लोग
  • डिप्टी सीएम सुशील मोदी के खिलाफ लोगों का फूटा गुस्सा
  • सुशील मोदी के घर का किया गया घेराव, पुलिस बल तैनात

बिहार की राजधानी पटना में जलजमाव, गंदगी और डेंगू के कहर से जूझ रहे लोगों का गुस्सा आज उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के खिलाफ फूटा. राजेंद्र नगर इलाके के स्थानीय लोगों ने आज रोड नंबर 11 से लेकर सुशील मोदी के आवास तक रोष मार्च निकाला और उसके बाद उनके घर का घेराव किया.

सुशील कुमार मोदी राजेंद्र नगर में ही रहते हैं और पिछले दिनों पटना में मूसलाधार बारिश के बाद जलजमाव की स्थिति हुई थी. उस दौरान राजेंद्र नगर सबसे ज्यादा प्रभावित इलाका था. तब सुशील मोदी को खुद उनके घर से तीसरे दिन एनडीआरएफ ने परिवार समेत रेस्क्यू किया था.

सुशील मोदी के घर का घेराव

बता दें, राजेंद्र नगर के कई इलाकों से जल निकासी हो चुकी है, मगर अभी कई इलाकों में जलजमाव की स्थिति बरकरार है. साथ ही साथ लोग गंदगी और डेंगू के डंक से परेशान हैं. स्थानीय प्रशासन को जैसे ही इस बात की खबर मिली कि आक्रोशित लोगों ने सुशील मोदी के घर का घेराव कर लिया है. वहां पर तुरंत पुलिस फोर्स पहुंची और मोदी के घर पर काफी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है.

स्थानीय लोगों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और सुशील मोदी के खिलाफ नारेबाजी की और उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की जो पटना में जलजमाव के लिए जिम्मेदार हैं.

तेजस्वी का तंज

वहीं, बीते दिन शनिवार को आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि पटना में जलजमाव की वजह से उन्हें भी हाफ पैंट में अपना घर छोड़कर निकलना पड़ा.

वहीं, तेजस्वी यादव ने पटना में जलजमाव की समस्या के लिए सीधे तौर पर पटना नगर निगम को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि निगम में पिछले कई वर्षों से अब तक 400 करोड़ का घोटाला हो चुका है.

Read more!

RECOMMENDED