सफलता का सूरज

सोलर प्रोजेक्ट के लिए मैन्युफैक्चरिंग से लेकर निर्माण और कंसल्टेंसी तक हर तरह की विशेषज्ञता

विनीत मित्तल
मंजीत ठाकुर/संध्या द्विवेदी
  • मुबंई,
  • 19 जुलाई 2018,
  • अपडेटेड 3:31 PM IST

नवितास ग्रीन सॉल्यूशंस के मालिक 31 वर्षीय विनीत मित्तल हैं.

बिजनेस परिवारों से आने वाले विनीत मित्तल और 33 साल के सुनय शाह मुंबई में एसवी जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट में पारिवारिक व्यवसाय प्रबंधन का अध्ययन करने के दौरान ही उद्यमिता को लेकर काफी आश्वस्त थे.

दोनों ने सौर ऊर्जा उद्योग में अत्यधिक संभावना देखी और वहां अपनी सारी ताकत इसी क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करने में लगाई. शाह कहते हैं, "मोबाइल फोन दूरसंचार उद्योग में जैसा बदलाव लेकर आया, वैसा ही बदलाव सौर ऊर्जा उद्योग बिजली के क्षेत्र में लेकर आया है.''

"यदि वायरलेस मोबाइल फोन ने टेलीफोन लाइनें बिछाने की समस्या से निजात दिला दी, सौर ऊर्जा ने भी बिजली निर्माण केंद्र से लेकर उपभोग स्थान तक बिजली पहुंचाने के लिए जरूरी तारों के झंझट से मुक्ति दिला दी. इसे खपत के स्थान पर ही पैदा किया जा सकता है.''

2015 में उन्होंने सूरत के पास एक औद्योगिक क्षेत्र में क्रिस्टलीय सौर पैनल बनाने के लिए एक संयंत्र स्थापित किया. उन्होंने 30 करोड़ रु. का कर्ज उठाया, जिसमें 20 करोड़ रु. वर्किंग कैपिटल (कार्यशील पूंजी) के रूप में थे. उन्होंने गुणवत्ता बेहतर रखने के लिए यूरोप से स्वचालित मशीनरी खरीदी और कम महत्वपूर्ण मशीनें सस्ती दर पर चीन से मंगाईं.

आज बड़े औद्योगिक घरानों से लेकर एनजीओ और हाउसिंग सोसाइटी तक उनके ग्राहक हैं. 200 मेगावाट की क्षमता के साथ, नवितास ने इस वर्ष 89 करोड़ रुपये का कारोबार किया. कंपनी को उम्मीद है कि उसका कारोबार आने वाले तीन साल  में 500 करोड़ रुपए तक पहुंच जाएगा.

***

Read more!

RECOMMENDED