नरेंद्र मोदी पर शरद यादव का हमला, बोले- कोसी की मीटिंग में उड़ रहे थे कौवे

बीजेपी के पुराने साथी रहे जेडी(यू) अध्‍यक्ष शरद यादव ने नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है. मधेपुरा सीट से लोकसभा प्रत्‍याशी शरद यादव ने कहा कि कोसी क्षेत्र में मोदी की मीटिंग के दौरान लोगों की भीड़ नहीं जुटी, बल्कि कौवे उड़ रहे थे.

शरद यादव
aajtak.in
  • मधेपुरा,
  • 30 अप्रैल 2014,
  • अपडेटेड 5:09 PM IST

बीजेपी के पुराने साथी रहे जेडी(यू) अध्‍यक्ष शरद यादव ने नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है. मधेपुरा सीट से लोकसभा प्रत्‍याशी शरद यादव ने कहा कि कोसी क्षेत्र में मोदी की मीटिंग के दौरान लोगों की भीड़ नहीं जुटी, बल्कि कौवे उड़ रहे थे.

'आज तक' से खास बातचीत में यादव ने कहा, 'कोसी में मोदी की मीटिंग में कौवे उड़े, कोई भीड़ नहीं जुटी.' उन्‍होंने दावा किया इस बार के चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिलेगा. उन्‍होंने कहा, 'कांग्रेस और बीजेपी बहुमत से दूर रहेंगे. इन दोनों को सत्‍ता में नहीं आने देना है. मेरा पूरा प्रयास होगा कि बीजेपी औऱ कांग्रेस दोनों केंद्र की सत्‍ता में न आएं. एक रूह है तो दूसरा शरीर. मैं मानता हूं कि 16 मई के बाद मध्यावधि चुनाव की स्थितियां बन सकती हैं.'

'जेडी(यू) का भूगोल घटा, तो खबर भी घटी'शरद यादव को बिहार में बीजेपी-जेडी(यू) का साथ छूटने का भी अफसोस नहीं है. उन्‍होंने कहा, 'हमनें बीजेपी का साथ छोड़कर कोई गलती नहीं की. हमने बिलकुल सोच-समझ कर अपने उसूलों के आधार पर फैसला लिया है और ऐसे फैसले जमीर से लिए जाते हैं. हमने नफा-नुकसान देखकर यह फैसला नहीं किया था. बीजेपी से रिश्ता तोड़ने का फैसला न तो नीतीश कुमार ने किया न ही शरद यादव ने बल्कि फैसला पार्टी की राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी ने किया है. लेकिन हमारी पार्टी का भूगोल घट गया तो उसकी खबर भी घट गई.'

भविष्‍य में बीजेपी के साथ तालमेल की संभावनाओं पर शरद ने कहा, 'जेडी(यू) का बीजेपी के साथ कभी मेल नहीं हो सकता है. जिन पूंजीपतियों के दम पर बीजेपी ने मीडिया को खरीद लिया है, उसके साथ मेल हो सकता है क्या? जब बीजेपी ने नेशनल एजेंडा छोड़ दिया तो हमने भी रास्ता बदल लिया. झूठ को फैलाने का काम बीजेपी और नरेंद्र मोदी है तो अब बीजेपी से मेल क्यों होगा. ' बीजेपी के सभी बड़े नेता हाशिए पर जा चुके हैं जिन्‍होंने कई वर्षों तक पार्टी के लिए मेहनत किया. अब तो बीजेपी में एक ही नेता है, 'हर-हर मोदी, घर-घर मोदी.'

'पासवान ने अपने घर में जला लिया चिराग'चुनाव पूर्व एनडीए के सहयोगियों पर शरद ने कहा, 'इन्होंने जो गठबंधन बनाया है, वो महज प्रचार के लिए है. रामविलास पासवान और टीडीपी बीजेपी के साथ हैं लेकिन 16 मई को नतीजे आएंगे तो पता चल जाएगा. पंजाब में अकाली इनके सहयोगी है लेकिन पंजाब में ये नहीं जीतेंगे. रामविलास पासवान कहते हैं कि झोपड़ी में चिराग जला रहे हैं, लेकिन अपने ही घर में चिराग जला लिया.'

शरद यादव ने कहा कि हालांकि, इस चुनाव में उनकी पार्टी जेडी(यू) अकेले है. लेकिन, पार्टी ने पहले भी देश को विकल्प दिया है. देवगौड़ा, गुजराल को पीएम बनने में मदद की है और आगे भी विकल्प देगी.

Read more!

RECOMMENDED