ममता का मोदी पर तीखा वार, कहा- इतिहास-भूगोल-राजनीति का नहीं है ज्ञान, PM बने तो जल उठेगा देश

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और बीजेपी के प्रधानमंत्री पद उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के बीच जुबानी जंग बढ़ती ही जा रही है. मंगलवार को मोदी के खिलाफ जहर उगलते हुए टीएमसी सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि अगर मोदी प्रधानमंत्री बने तो देश जल उठेगा.

ममता बनर्जी
aajtak.in
  • कोलकाता,
  • 30 अप्रैल 2014,
  • अपडेटेड 10:45 AM IST

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और बीजेपी के प्रधानमंत्री पद उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के बीच जुबानी जंग बढ़ती ही जा रही है. मंगलवार को मोदी के खिलाफ जहर उगलते हुए टीएमसी सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि अगर मोदी प्रधानमंत्री बने तो देश जल उठेगा.

... तो जल उठेगा पूरा देश इससे पहले भी टीएमसी मोदी के खिलाफ गुजरात का कसाई जैसे तीखे शब्दों का इस्तेमाल कर चुकी है. ममता बनर्जी ने कहा, 'भारत अंधकार युग में लौट जाएगा. अगर वह प्रधानमंत्री बने तो भारत जल जाएगा. जो व्यक्ति अलगाववादी राजनीति करता है वह देश का नेतृत्व नहीं कर सकता. मोदी को देश का इतिहास, भूगोल और राजनीति का पता नहीं है.'

अकेले शेर नहीं हैं नरेंद्र मोदी... ममता ने दावा किया कि मोदी ने यह मान लिया है कि वह प्रधानमंत्री बन गए हैं. उन्होंने कहा, 'वह कोई अकेले शेर नहीं हैं. मायावती, जयललिता और मुलायम जी जैसे और भी बहुत से नेता हैं, वे भी शेर हैं. और सबसे भयावह शेर रॉयल बंगाल टाइगर होता है जो बंगाल में है.'

मोदी पर है दंगा कराने का आरोप... ममता ने कहा, 'नेता जो भारत की अगुवाई करेगा वह महात्मा गांधी, नेताजी, सरदार वल्लभ भाई पटेल जैसा होना चाहिए. ऐसा नहीं होना चाहिए जिसकी विचाराधारा धर्म के आधार पर देश को विभाजित करने की हो. एक व्यक्ति जिस पर दंगा कराने का आरोप है, उसे भारत जैसे बहु भाषी और बहु धर्मी देश का नेतृत्व नहीं करना चाहिए.'

अपनी जुबान पर काबू नहीं रख सकते हैं मोदी... मोदी द्वारा उनकी एक पेंटिंग 1.8 करोड़ रुपये में बिकने के बारे में लगाए गए आरोपों पर ममता ने कहा, 'उन्हें कोई टिप्पणी करने से पहले तथ्यों की जांच करनी चाहिए. कोई आकर उनके कान में कुछ भी कह जाता है और वे तुरंत उसे उगल देते हैं. एक व्यक्ति जो अपनी जुबान पर काबू नहीं कर सकता, वह देश को कैसे काबू में रख पाएगा.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने मीडिया के एक वर्ग पर भी मोदी का समर्थन करने के लिए कॉरपोरेट जगत के इशारों पर नाचने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, 'कृपया मुझे प्रशासन और राजनीति पर उपदेश नहीं दें.'

Read more!

RECOMMENDED