पंजाब के टॉप पुलिस अफसर के खिलाफ केस, वसूली रैकेट चलाने, रेप जैसे संगीन आरोप

पंजाब विजिलेंस ब्यूरो के एआईजी आशीष कपूर के खिलाफ मोहाली में क्रिमिनल केस दर्ज किया गया है. केस पंजाब पुलिस के स्पेशल ऑपरेशंस सेल ने दर्ज किया है.

पंजाब विजिलेंस ब्यूरो के एआईजी आशीष कपूर (Photo- Aajtak)
मनजीत सहगल
  • चंडीगढ़,
  • 18 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 2:42 PM IST

  • एआईजी आशीष कपूर के खिलाफ क्रिमिनल केस
  • रेप और महिला को धमकाने जैसे संगीन आरोप

पंजाब विजिलेंस ब्यूरो के एआईजी आशीष कपूर के खिलाफ मोहाली में क्रिमिनल केस दर्ज किया गया है. केस पंजाब पुलिस के स्पेशल ऑपरेशंस सेल ने दर्ज किया है. कपूर के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराएं लगाई गई हैं. वरिष्ठ पुलिस अधिकारी पर जेल से वसूली का रैकेट चलाने, लूट, रेप और महिला को धमकाने जैसे संगीन आरोप हैं.

महिला ने 28 जून को भेजी थी शिकायत

कुरुक्षेत्र की रहने वाली 36 वर्षीय महिला ने 28 जून 2019 को ऑर्गनाइज्ड क्राइम कंट्रोल यूनिट (OCCU) को कपूर के खिलाफ शिकायत भेजी थी. इसमें फर्जी केस में फंसाने, लूट और पुलिस की मौजूदगी में रेप जैसे आरोप कपूर पर लगाए गए. पुलिस ने महिला का बयान सीआरपीसी के सेक्शन 161 के तहत रिकॉर्ड किया. महिला ने इसमें बताया कि एआईजी कपूर ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए जीरकपुर, मोहाली पुलिस स्टेशन में उसके खिलाफ फर्जी केस दर्ज कराया.

परिवार के सदस्यों पर थर्ड डिग्री उत्पीड़न

महिला के मुताबिक, उसके और परिवार के अन्य सदस्यों पर कपूर की मौजूदगी में थर्ड डिग्री उत्पीड़न किया गया. उस वक्त कपूर की पत्नी कमल कपूर भी वहां मौजूद थीं. महिला का ये भी आरोप है कि कपूर ने एक पुलिस इंस्पेक्टर की कार में पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में उसके साथ रेप किया.

आरोप है कि पीड़ित महिला को जब गिरफ्तार किया गया था तब आशीष कपूर ने 38.80 लाख रुपए, 550 ग्राम सोने के गहने लूट लिए. ये रकम और सोना महिला और उसके परिवार के सदस्यों के घर, बैंक खातों और लॉकर से निकाले गए.

जेल से वसूली का रैकेट चलाने के आरोपी

इससे पहले 1 मई 2019 को पंजाब सीआईडी के इंटेलीजेंस विंग ने कपूर को पटियाला सेंट्रल जेल से वसूली का रैकेट चलाने के मामले में आरोपी बनाया था. उस केस की जांच आईजी कुंवर विजय प्रताप सिंह की अगुआई में पंजाब पुलिस का ऑर्गनाइज्ड क्राइम कंट्रोल यूनिट (OCCU) कर रहा है. उसी केस की जांच के दौरान पीड़ित महिला का बयान रिकॉर्ड किया गया. 

Read more!

RECOMMENDED