बंगाल में दुकानदार की गोली मारकर हत्या, BJP बोली- हमारा कार्यकर्ता

मुर्शिदाबाद हत्याकांड के अब ताजा मामला सूबे के नादिया जिले से आया है, जहां अपराधियों ने 52 वर्षीय एक दुकानदार की गोली मारकर हत्या कर दी. बीजेपी ने मृतक को अपना सदस्य बताया है.

सांकेतिक तस्वीर
aajtak.in
  • नादिया (पश्चिम बंगाल),
  • 13 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 12:22 AM IST

  • बीजेपी सांसद ने कहा-1996 से बीजेपी में सक्रिय थे हरलाल देबनाथ
  • मृतक की पत्नी ने कहा- दुकान में समान लेने आए थे हमलावर

पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े लोगों की हत्याएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं. मुर्शिदाबाद हत्याकांड के अब ताजा मामला सूबे के नादिया जिले से आया है, जहां अपराधियों ने 52 वर्षीय एक दुकानदार की गोली मारकर हत्या कर दी. बीजेपी ने मृतक को अपना सदस्य बताया है.

शनिवार को पुलिस ने बताया कि हरलाल देबनाथ परचून की एक दुकान चलाता था. शुक्रवार रात उसकी राणाघाट के हबीबपुर में गोली मारकर हत्या कर दी गई. मृतक हरलाल देबनाथ की पत्नी चंदना देबनाथ ने बताया कि दो हमलावर दुकान पर आए और समान मांगा. जब हरलाल उनके लिए सामान निकाल रहा था, तभी उन्होंने गोली मार दी और फरार हो गए.

पुलिस के मुताबिक अपराधियों की खोजबीन की जा रही है. साथ ही हत्या के पीछे की वजह का पता लगाया जा रहा है. समाचार एजेंसी आईएएनएस ने राणाघाट से बीजेपी सांसद जगन्नाथ सरकार के हवाले से बताया कि हरलाल देबनाथ 1996 से ही बीजेपी में सक्रिय हैं. वो हमारे राणाघाट की अखंड मंडल कमेटी के सदस्य थे. वो दबाव के कारण कुछ समय के लिए दूर हो गए थे, लेकिन लोकसभा चुनाव में उन्होंने फिर से बीजेपी के लिए सक्रिय रूप से प्रचार किया था.

बीजेपी सांसद ने कहा कि यह राजनीतिक हत्या है, जिसके लिए तृणमूल कांग्रेस जिम्मेदार है. हालांकि तृणमूल कांग्रेस ने आरोप को सिरे से खारिज किया है. तृणमूल ने कहा कि मृतक का हाल में बीजेपी से कोई नाता नहीं था. इससे पहले पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में शिक्षक बंधु पाल, उनकी गर्भवती पत्नी और 8 साल के बच्चे की हत्या का मामला सामने आ चुका है. आरएसएस ने दावा किया कि मृतक बंधु पाल संघ के कार्यकर्ता थे. इस हत्याकांड के बाद विपक्ष ने पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला बोला था.

Read more!

RECOMMENDED