महिला सिपाही बनी अपराधी की गर्लफ्रेंड, WhatsApp पर चैट कर ऐसे किया काबू

पुलिस ने जब लूट के मामले की जांच शुरू की तो उसमें आरोपी सोमवीर के बारे में पता लगा. जब पुलिस ने सोमवीर का कॉल डीटेल खंगाला तो उसे सोमवीर की एक गर्लफ्रेंड के बारे में पता लगा. इसके बाद एक महिला सिपाही उससे उसकी गर्लफ्रेंड बन कर चैट करने लगी.

गिरफ्तार आरोपी
हिमांशु मिश्रा
  • नई दिल्ली,
  • 17 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 5:42 PM IST

  • पुलिस ने आरोपी के लिए बिछाया हनी ट्रैप का जाल
  • महिला कांस्टेबल ने की गर्लफ्रेंड बन कर बात

दिल्ली पुलिस ने बदमाश को पकड़ने के लिए एक ऐसा अनोखा जाल बिछाया जिसमें बदमाश अनजाने में खुद ही पुलिस की बताई गई जगह पर पहुंच गया और पकड़ा गया. दरअसल पुलिस ने एक कार लूट के आरोपी सोमवीर को पकड़ने के लिए हनी ट्रैप का तरीका अपनाया. आरोपी सोमवीर को जरा भी अंदाजा नहीं हुआ कि जिसे वो अपनी गर्लफ्रेंड समझ रहा है दरअसल वो दिल्ली पुलिस की महिला कांस्टेबल है.

क्या है पूरा मामला

बताया जा रहा है कि 10 अक्टूबर को मुंडका थाने में एक लूट की शिकायत आई थी. शिकायत में बताया गया कि तीन लोगों ने एक टैक्सी किराए पर ली और रास्ते में मुंडका के पास तीनों लोगों ने ड्राइवर के सिर पर बोतल से वार कर उसे घायल कर दिया. इसके बाद आरोपियों ने मौके से कार और ड्राइवर के पास मौजूद सारा कैश लूट कर फरार हो गए.

वहीं आरोपियों ने लूट की वारदात को अंजाम देकर ड्राइवर को मुंडका इलाके में ही सड़क के किनारे फेंक दिया. लूट के बाद भागते वक्त आरोपियों ने हरियाणा के ही एक पेट्रोल पम्प से पेट्रोल भरवाया और वहां से भी  बिना पैसे दिए भाग गए. इसके बाद तीनों ने कार को एक सुनसान जगह पर छोड़ दिया

पुलिस ने बिछाया जाल

पुलिस ने जब मामले की जांच शुरु की तो उसमें सबसे पहले आरोपी सोमवीर के बारे में पता लगा. जब पुलिस ने सोमवीर का कॉल डीटेल खंगाला तो उसे सोमवीर की एक गर्लफ्रेंड के बारे में पता लगा. इसके बाद एक महिला सिपाही उससे उसकी गर्लफ्रेंड बन कर चैट करने लगी.

महिला सिपाही ने व्हाट्सएप चैटिंग करके आरोपी सोमवीर को अपने विश्वास में ले लिया और फिर मुंडका थाने के पास के एक पार्क में मिलने के लिए बुला लिया.  

वहीं इस मामले आरोपी सोमवीर को जरा भी शक नहीं हुआ और बताए गए पार्क में पहुंच गया जिसके बाद पुलिस ने उसे दबोच लिया. पुलिस ने आरोपी से पूछताछ शुरू की. पूछताछ में सोमवीर ने अपने दो साथियों प्रेदीप और मनोज के बारे में जानकारी दे दी. जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने उन तीनों को भी गिरफ्तार कर लिया.

Read more!

RECOMMENDED