जुर्म

प्राइवेट पार्ट में छुपाए थे मोबाइल-चरस, जेल में ऐसे पकड़े गए कैदी

  • 1/5

उत्तर प्रदेश की बागपत जेल में दो कैदियों की चालाकी उन्हीं पर भारी पड़ गई. दरअसल पेशी के बाद कोर्ट से लौट रहे दो कैदियों ने अपने परिजनों से मिलकर मोबाइल और सुल्फा (चरस) लेकर प्राइवेट पार्ट में छुपा लिया. जब दोनों कैदी जेल पहुंचे तो उन्हें दर्द होने लगा, जिसके बाद वो बेचैन हो गए.

  • 2/5

दर्द बढ़ने के बाद दोनों कैदियों ने जेल अधिकारियों से इलाज की सुविधा मांगी. इसके बाद दोनों कैदियों को जेल के अस्पताल में भर्ती कराया गया. डॉक्टर के इलाज के बाद भी उनका दर्द कम होने की जगह जब और बढ़ गया तो उन्होंने डॉक्टर को पूरी सच्चाई बता दी जिसे सुनकर वो चौंक गए.

  • 3/5

डॉक्टरों ने फौरन इसकी सूचना जेल अधिकारियों को दी जिसके बाद दोनों कैदियों के शरीर से सुल्फे की बत्ती और मोबाइल निकालने के लिए डॉक्टरों ने कोशिश शुरू कर दी. काफी मेहनत के बाद डॉक्टर ने दोनों कैदियों के शरीर से सुल्फे की दो बत्तियां निकाली और तीसरे को भी निकालने की कोशिश करते रहे.

  • 4/5

बताया जा रहा है कि मोबाइल शरीर के अंदर पहुंच गया है, जिसे निकालने के लिए डॉक्टर जीतोड़ कोशिश कर रहे हैं. मोबाइल नहीं निकलने पर दोनों कैदियों का ऑपरेशन भी किया जा सकता है.

  • 5/5

रिपोर्ट के मुताबिक दोनों कैदियों ने पुलिसकर्मियों की साठगांठ से परिजनों से मुलाकात की और उनसे मोबाइल और सुल्फा लिया. जेल में पकड़े जाने के डर से दोनों कैदियों ने उसे अपने गुप्तांग में छिपा लिया था.

लेटेस्ट फोटो