मजदूरों की वापसी पर राजस्थान का यू-टर्न, सरकार बोली- जो जहां हैं, वहीं रहें

राजस्थान सरकार ने कहा, 'केंद्र सरकार ने आदेश दिया है कि लॉकडॉउन के दौरान जो लोग अपने घर जाने के दौरान फंस गए थे, उन्हें ही आने-जाने की छूट देनी है, जो लोग आराम से रह रहे हैं, वह जहां हैं, वहीं रहें.'

घर वापसी करते मजदूर (फाइल फोटो-PTI) घर वापसी करते मजदूर (फाइल फोटो-PTI)
शरत कुमार
  • जयपुर,
  • 06 मई 2020,
  • अपडेटेड 1:10 PM IST

  • अशोक गहलोत सरकार ने पलटा फैसला
  • अब सिर्फ रास्ते में फंसे मजदूरों की वापसी

मजदूरों की घर वापसी पर राजस्थान सरकार ने अब यू-टर्न ले लिया है. राजस्थान सरकार ने कहा, 'केंद्र सरकार ने आदेश दिया है कि लॉकडॉउन के दौरान जो लोग अपने घर जाने के दौरान फंस गए थे, उन्हें ही आने-जाने की छूट देनी है, जो लोग आराम से रह रहे हैं, वह जहां हैं, वहीं रहें.

इससे पहले सीएम अशोक गहलोत ने देश के अलग-अलग राज्यों में फंसे सभी प्रवासी मजदूरों की घर वापसी की बात कही थी. सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि मजदूरों को चरणबद्ध तरीके से लाया जाएगा. इसके लिए पहले संबंधित राज्य सरकार से अनुमति ली जाएगी, फिर रोडवेज की बसों से उन्हें अन्‍य राज्‍यों से राजस्‍थान लाकर उनके घर तक पहुंचाया जाएगा.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि राजस्थान के लोग बड़ी संख्या में देश भर में हैं. वे एक बार घर आना चाहते हैं और मैं प्रधानमंत्री को पत्र लिख रहा हूं कि राजस्थान के लोगों को जो भी राजस्थान आना चाहते हैं उन्हें आने दिया जाए. इसके बाद केंद्र ने राज्य सरकार को इजाजत भी दे दी थी.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

ई-एजेंडा के कार्यक्रम में सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि जिस तरह का माहौल बन गया है, उसके लिए काफी जरूरी था कि मजदूर अपने परिवार से मिल सकें. क्योंकि मजदूरों के मन में इस बात की फिक्र थी कि आखिर लॉकडाउन कबतक रहेगा. ऐसे में सरकार से हमने इन्हें वापस भेजने की मांग की थी, जो अब मान ली गई है. साथ ही साथ ट्रेन की मांग भी मान ली गई है.

Read more!

RECOMMENDED