बढ़त के साथ बंद हुआ बाजार, 9.5 लाख करोड़ के पार RIL का मार्केट कैप

भारतीय शेयर बाजार में मंगलवार को बढ़त दर्ज की गई. इस दौरान सेंसेक्‍स 185 अंक की तेजी के साथ बंद हुआ.

सेंसेक्‍स में 180 अंकों से अधिक की बढ़त
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 19 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 4:44 PM IST

  • सेंसेक्‍स 185 अंक की तेजी के साथ 40,469.70 अंक पर बंद
  • एयरटेल के शेयर 7 फीसदी से अधिक तेजी के साथ बंद

सप्‍ताह के दूसरे कारोबारी दिन मंगलवार को भारतीय शेयर बाजार में तेजी दर्ज की गई. कारोबार के अंत में सेंसेक्‍स 185.51 अंक की तेजी के साथ 40,469.70 अंक के स्‍तर पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी 55.60 अंक की बढ़त के साथ 11,940.10 अंक पर रहा. बीएसई इंडेक्‍स में कारोबार के अंत में सबसे बड़ी गिरावट यस बैंक के शेयर में रही. यस बैंक के शेयर 2.66 फीसदी की फिसलन के साथ बंद हुए. वहीं एयरटेल के शेयर 7 फीसदी से अधिक तेजी के साथ बंद हुए. जबकि वोडाफोन-आइडिया में रिकॉर्ड 38.20 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई.

दरअसल, दोनों टेलीकॉम कंपनियों को अब तक का सबसे बड़ा घाटा हुआ है. लेकिन टेलीकॉम कंपनियों को सरकार से राहत मिलने की उम्‍मीद जगी है. इस वजह से इनके शेयर में बीते कुछ दिनों से  तेजी देखने को मिल रही है. बता दें कि एयरटेल को जुलाई-सितंबर, 2019 तिमाही में 23,045 करोड़ रुपये का बड़ा घाटा हुआ है. वहीं वोडाफोन-आइडिया को 50,921 करोड़ रुपये का सबसे बड़ा नुकसान हुआ है. इसे कॉरपोरेट इतिहास का सबसे बड़ा तिमाही घाटा माना जा रहा है.

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज को नया मुकाम

इस बीच, मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज  मार्केट कैप को एक नया मुकाम मिला. कारोबार के दौरान कंपनी ने 9.5 लाख करोड़ के मार्केट कैप को छू लिया. यह पहली बार है जब किसी कंपनी का मार्केट कैप इस स्‍तर पर पहुंचा है. कारोबार के अंत में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज का मार्केट कैप 9.57 लाख करोड़ रुपये था. वहीं कंपनी का शेयर प्राइस 1509.80 रुपये पर रहा. बता दें कि हाल ही में RIL ने 9 लाख करोड़ के मार्केट कैप का आंकड़ा छुआ था.

इन शेयरों में भी रही तेजी

इसके अलावा कारोबार के अंत में एक्‍सिस बैंक, पावरग्रिड, टेक महिंद्रा, एसबीआई, इंडसइंड बैंक, इन्‍फोसिस, एचडीएफसी बैंक, सनफार्मा और बजाज ऑटो में बढ़त दर्ज की गई. वहीं गिरावट वाले शेयरों में महिंद्रा, टाटा स्‍टील, टीसीएस, टाटा मोटर्स, वेदांता, हीरो मोटोकॉर्प, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी, एचयूएल, एशियन पेंट और मारुति शामिल हैं.

Read more!

RECOMMENDED