कॉरपोरेट टैक्स में कटौती से बाजार गुलजार, DII के जरिये 3000 करोड़ का निवेश

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जैसे ही कॉरपोरेट टैक्स में कटौती का ऐलान किया घरेलू बाजार शुक्रवार को गुलजार हो गया.

कॉरपोरेट टैक्स में कटौती से बाजार में लौटी रौनक
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 22 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 10:04 PM IST

  • टैक्स में कटौती से विदेशी निवेशकों का बाजार में बढ़ा निवेश
  • शेयर बाजार में तेज उछाल से निवेशकों का बढ़ा विश्वास 

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जैसे ही कॉरपोरेट टैक्स में कटौती का ऐलान किया घरेलू बाजार शुक्रवार को गुलजार हो गया. बाजार में एक दशक बाद की सबसे बड़ी एक दिनी तेजी देखी गई. घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) ने शुक्रवार को दिनभर के कारोबारी सत्र के दौरान 3,000 करोड़ रुपये का निवेश किया.

शुक्रवार को हुई जमकर खरीदारी

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) में भी भारतीय बाजार में निवेश के प्रति सकारात्मक रुझान दिखा. इससे पहले पांच सत्रों के दौरान वे जहां विकवाली कर रहे थे, वहीं शुक्रवार को उन्होंने भी लिवाली शुरू कर दी. एफपीआई का निवल निवेश हालांकि महज 35.78 करोड़ रुपये रहा.

सरचार्ज वापस लेने से निवेशकों का बढ़ा हौसला

बंबई स्टॉक एक्सचेंज के आंकड़ों के अनुसार, घरेलू संस्थागत निवेशकों ने शेयर बाजार में 3,001.32 करोड़ की लिवाली की. आम बजट में दौलतमंद लोगों पर सरचार्ज और शेयरों के बायबैक पर कर लगाए जाने से निवेशकों का मनोबल टूट गया था और FPI की विकवाली तेज हो गई. विदेशी निवेशक भारतीय बाजार से अपने पैसे निकालने लगे थे.

कॉरपोरेट टैक्स में कटौती का तोहफा

हालांकि, एफपीआई पर लगाया गया सरचार्ज वापस लेने के साथ-साथ सरकार के हालिया अन्य कदम से निवशकों को बड़ी राहत मिली है. वित्तमंत्री ने शुक्रवार को उन घरेलू कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स घटाकर 22 फीसदी करने की घोषणा की, जो किसी प्रकार की छूट और प्रोत्साहन का दावा नहीं करती हैं.

Read more!

RECOMMENDED