scorecardresearch
 
ग्रामीण भारत

इस बिजनेस से किसान बदल सकते हैं अपनी तकदीर, मिलती है 60 प्रतिशत तक की बंपर सब्सिडी

PM Matsya Sampada Yojana
  • 1/6

PM Matsya Sampada Yojana: मछली पालन ग्रामीण क्षेत्र के किसानों के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो रही है. कम लागत में बढ़िया मुनाफे के चलते किसान इस ओर तेजी से रूख कर रहे हैं. सरकार भी किसानों के बीच मछली पालन के व्यवसाय को प्रोत्साहित कर रही है.

Fish farming business
  • 2/6

मछली पालन पर किसानों को 60 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जाती है. यह सब्सिडी  केंद्र सरकार द्वारा साल 2020 में  पीएम मत्स्य संपदा योजना तहत दी जाती है. योजना के मुताबिक किसानों को मछली पालन के लिए कर्ज और फ्री ट्रेनिंग दिया जाता है.

Fish farming tips
  • 3/6

पीएम मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति और महिलाओं को मछली पालन का व्यवसाय शुरू करने के लिए 60 प्रतिशत अनुदान दिया जाता है. वहीं अन्य सभी को 40 प्रतिशत तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है. 
 

fish farming news
  • 4/6

पीएम मत्स्य संपदा योजना का लाभ लेने के लिए आप  इसकी अधिकारिक वेबसाइट  https://dof.gov.in/pmmsy पर विजिट कर आवेदन कर सकते हैं.

Fish farming
  • 5/6

नेशनल फिशरी डेवलपमेंट बोर्ड की प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक 20 हजार किग्रा क्षमता वाले टैंक या पॉन्ड बनाने पर आपके प्रोजेक्‍ट की लागत 20 लाख रुपये तक आती है. इसका 60 प्रतिशत सरकार की तरफ से मुहैया कराया जाता है. 

Fish farming tips care
  • 6/6

पीएम मत्स्य संपदा योजना के तहत मछली पालक क्रेडिट कार्ड बनवा कर इससे 1.60 लाख का लोन बिना गारंटी के ले सकते हैं. इसके अलावा इस क्रेडिट कार्ड से अधिकतम 3 लाख रुपए तक ऋण लिया जा सकता है. बता दें किसान क्रेडिट कार्ड पर लोन लेने पर अन्य ऋणों के मुकाबले कम ब्याज देना होता है.