scorecardresearch
 

इस बार 'धुआं-धुआं' नहीं होगी दिल्ली, पराली गलाने को लेकर सरकार ने लिए ये फैसले

बायो डी-कंपोजर के छिड़काव को लेकर कृषि विभाग ने किसानों से जल्द फॉर्म भरवाने के निर्देश जारी कर दिए गए है.  इस फार्म में किसान का डिटेल, खेत का डिटेल, फसल कटने का समय सहित कई अन्य जानकारियां भी भरनी होगी. इस दौरान किसान छिड़काव की तारीख को भी फार्म में अंकित करना होगा.

X
Delhi government to spray bio-decomposer in paddy fields
Delhi government to spray bio-decomposer in paddy fields

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण गंभीर समस्या हमेशा से रही है. फसलों की कटाई के वक्त यह समस्या और भी बढ़ जाती है. किसानों द्वारा पराली जलाने की वजह से पूरी दिल्ली धुआं धुआं हो जाती हैं और प्रदूषण का स्तर जानलेवा हो जाता है. ऐसी स्थिति से बचने के लिए केजरीवाल सरकार ने पराली गलाने के लिए खेतों में बायो डि-कंपोजर का मुफ्त छिड़काव करने की तैयारी शुरू कर दी है.

मुफ्त बायो डिकंपोजर के छिड़काव को लेकर हुई बैठक

दिल्ली के विकास मंत्री गोपाल राय ने मुफ्त में बायो डी-कंपोजर के छिड़काव को लेकर विकास विभाग, राजस्व विभाग और भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान (पूसा) के उच्च अधिकारियों के साथ संयुक्त बैठक की है. बैठक के बाद विकास मंत्री गोपाल राय ने बताया कि दिल्ली के अंदर बासमती और गैर बासमती धान के सभी खेतों में सरकार मुफ्त बायो डी-कंपोजर का छिड़काव करवाएगी.

अधिकारियों को दिए गए ये निर्देश

बायो डी-कंपोजर के छिड़काव को लेकर कृषि विभाग को किसानों से जल्द फॉर्म भरवाने के निर्देश जारी कर दिए गए है.  . इस फार्म में किसान का डिटेल, कितने एकड़ खेत में छिड़काव करवाना चाहते हैं और फसल कटने का समय, यह रिकॉर्ड शामिल रहेंगे. किसान छिड़काव की तारीख भी फार्म में दर्ज करेंगे ताकि उसी हिसाब से उनके खेत में छिड़काव का इंतजाम किया जा सकें. 

किसानों के लिए हेल्पलाइन नंबर भी किया जाएगा जारी

गोपाल राय के मुताबिक इस बार विकास विभाग द्वारा किसानो के लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया जाएगा. मुफ्त बायो डी-कंपोजर के छिड़काव को लेकर 10 सितंबर में दिल्ली सचिवालय में ट्रेनिंग प्रोग्राम भी आयोजित किया जाएगा. इसके साथ ही दिल्ली के अंदर किसानो के बीच बायो डी-कंपोजर के छिड़काव को लेकर जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश भी जारी कर दिए गए है.

विंटर एक्शन प्लान बनाने की योजना

बैठक के बारे में अधिक जानकारी देते हुए विकास मंत्री गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली के अंदर सर्दियों के मौसम में होने वाली प्रदूषण की समस्या के समाधान के लिए केजरीवाल सरकार लगातार अलग-अलग विभागों के साथ बैठक कर अपना विंटर एक्शन प्लान बनाने की तरफ बढ़ रही है. सभी विभागों को विंटर एक्शन प्लान को लेकर 15 फोकस बिंदुओं पर अलग-अलग जिम्मेदारी सौंपी गई है. इसके तहत पर्यावरण विभाग विंटर एक्शन प्लान की संयुक्त कार्ययोजना तैयार करेगा.

पिछले साल भी बायो डिकंपोजर का किया गया था छिड़काव

 दिल्ली में पराली से प्रदूषण न हो , इसीलिए पिछले साल बायो डी-कंपोजर का मुफ्त में छिड़काव सरकार  द्वारा  किया गया था. जिसका बहुत ही सकारात्मक परिणाम रहा, पराली गल गई और खेत की उपजाऊ क्षमता में भी बढ़ोतरी देखी गई थी. इस साल भी दिल्ली सरकार समय रहते अभी से इस काम की तैयारियों में जुट गई है ताकि सारी कवायद में देरी भी न हो और किसानो को बेहतर परिणाम भी मिल सकें.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें