scorecardresearch
 

Gujarat Election: किसानों को नहीं होगी वोटिंग में परेशानी, एनिमल बूथ रखेगा मवेशियों का ख्‍याल

Gujarat Elections: किसानों की दिक्कत को देखते हुए कलेक्टर ने जिले में कई जगहों पर एनिमल बूथ बनवाए हैं. किसान जब अपने मवेशियों के साथ 1 दिसंबर को मतदान केंद्रों पर वोट डालने जाएंगे तो उनकी गाय, भैंस और बकरियों का अच्छे से एनिमल बूथ पर ख्याल रखा जाएगा.

X
जूनागढ़ में मतदान केंद्रों के बाहर एनिमल बूथ
जूनागढ़ में मतदान केंद्रों के बाहर एनिमल बूथ

गुजरात में विधानसभा चुनाव शुरू हो रहे हैं. पहले फेज की वोटिंग 1 दिसंबर को होने वाली है. इस दौरान कुल 89 सीटों पर वोट डाले जाएंगे. जूनागढ़ में भी पहले ही फेज में मतदान है. यहां के प्रशासन ने इसको लेकर तैयारियां भी पूरी कर ली है. इस बीच किसानों की समस्या को देखते हुए यहां प्रयोग के तौर पर भारत का पहला एनिमल बूथ बनाया गया है.

एनिमल बूथ पर मवेशियों की होगी देखभाल

किसानों की दिक्कत को देखते हुए कलेक्टर ने जिले में कई जगहों पर एनिमल बूथ बनवाए हैं. किसान जब अपने मवेशियों के साथ मतदान केंद्रों पर वोट डालने जाएंगे तो उनकी गाय, भैंस और बकरियों का अच्छे से एनिमल बूथ पर ख्याल रखा जाएगा. यहां मवेशियों की दवा से लेकर चारे तक का इंतजाम किया गया है.

मतदान केंद्रों के बाहर हेल्थ बूथ भी बनाए गए

मतदान केंद्रों के बाहर हेल्थ बूथ भी बनाए गए हैं. यहां लोगों को चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध होंगी. प्रशासन द्वारा मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए ये सारे कदम उठाए गए हैं. जुनागढ़ के बहाउद्दीन कॉलेज कैंपस में EVM रिसिविंग और डिस्पैचिंग के कार्य के लिए जा रहे कर्मचारियों को फूल देकर प्रोत्साहित भी किया गया है. 

स्पेशल सखी बूथ, दिव्यांग बूथ, एनिमल केयर बूथ बनाए गए हैं

बता दें कि जुनागढ़ में कुल 1347 बुथ केंद्र बनाए गए हैं, 1438 प्रिसिडिंग ऑफिसर्स, 1438 पोलिंग ऑफिसर तैनात किए गए हैं.  इसके अलावा स्पेशल सखी बूथ, दिव्यांग बूथ, एनिमल केयर बूथ भी बनाए गए हैं.

इस बार आम आदमी पार्टी भी ठोक रही है ताल

बता दें कि गुजरात में 1 दिसंबर को पहले फेज की वोटिंग होगी. वहीं, 5 दिसंबर को दूसरे फेज की वोटिंग है. 8 दिसंबर को चुनाव के नतीजे आने वाले है. बता दें कि अबतक पहले के चुनावों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच चुनावी टक्कर होती थी. इस बार मैदान में एक और प्रतिद्वंदी आ गया है. इस चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के खिलाफ आम आदमी पार्टी भी ताल ठोक रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें